Breaking News

पल भर में किस्मत बदलने की ताकत रखते हैं ‘नमक के ये उपाय’

पल भर में किस्मत बदलने की ताकत रखते हैं ‘नमक के ये उपाय’

कई बार व्यक्ति ऐसे संकटों में फंस जाता है जहां से निकलना पूरी तरह असंभव हो जाता है। इस स्थिति में कुछ बहुत ही आसान से उपाय करके व्यक्ति अपने संकटों से मुक्त हो सकता है। ये उपाय करने में जितने सरल और आसान है, इनका असर भी उतनी ही जल्दी होता है।

नमक एक ऐसी चीज है जो हर घर की किचन में आसानी से मिलजाता है और बहुत ही सस्ता है। यदि ज्योतिष और तंत्र की बात की जाए तो वहां पर नमक के कई टोटके बताए गए हैं। ये सभी उपाय पूरी तरह से अचूक है और करते ही तुरंत फायदा पहुंचाते हैं। जानिए नमक के ऐसे ही कुछ टोटकों के बारे में-
मन की बैचेनी दूर करने के लिए नमक के उपाय (Namak ke Totke)

कई बार बिना किसी वजह के ही मन में बैचेनी होने लगती है। इसके चलते व्यक्ति मानसिक चिंता और तनाव में घिर जाता है। इस स्थिति में अपने एक हाथ की मुट्ठी में नमक लेकर अपने ऊपर से 7 बार फिराएं और उसे वॉश बेसिन में बहा कर थोड़ी देर पानी बहने दें। कुछ ही देर में बैचेनी बिल्कुल दूर हो जाएगी।
रोगों से मुक्ति पाने के लिए नमक के टोटके

यदि सभी तरह के इलाज लेने के बाद भी मरीज सही नहीं हो रहा है और लगातार उसका रोग बढ़ता ही जा रहा है तो ऐसे मरीज के सिरहाने पर एक कांच के बर्तन में मुट्ठी भर नमक भरकर रख देना चाहिए। रोजाना सुबह इस नमक को किसी गंदे नाले में फेंक दे और फिर से नया नमक भर कर रख दें।
घर में क्लेश और झगड़े समाप्त करने के लिए

इसके लिए सबसे आसान उपाय यह है कि आप अपने घर में रोजाना सेंधा नमक मिले पानी का पौंछा लगाएं। इसके बाद अपने बेडरूम में सेंधा नमक की एक डली रख दें और प्रत्येक 15 दिन में इसे बदलते रहें। इससे पति-पत्नी में कभी क्लेश नहीं होगा और घर में भी शांति बनी रहेगी।
आर्थिक संकट दूर करने के लिए लिए

कई बार बहुत ज्यादा प्रयास करने के बाद भी व्यक्ति को मनचाही मात्रा में पैसा नहीं मिल पाता और वह आर्थिक संकटों से घिरा रहता है। इस सिचुएशन में एक कांच का गिलास लेकर उसमें पानी और नमक मिलाकर घर के नैऋत्य कोण (दक्षिण-पश्चिम दिशा) में रख दें। इस पानी के गिलास के पीछे एक लाल रंग का बल्ब भी लगा दीजिए। प्रत्येक 15 दिन में एक बार गिलास में भरा नमक मिला पानी बदलते रहें। इससे कुछ ही दिनों में आपके घर के संकट दूर होने लगते हैं और पैसा आने लगता है।

No comments