Breaking News

जिन पुरुषों के बाल कम होते हैं महिलाएं उनकी तरफ ज्यादा आकर्षित होती हैं

benefits of baldness

गंजेपन के फायदे: बाल किसी भी व्यक्ति के रूप को निखारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। बाल शरीर का वह हिस्सा है जो किसी का भी सबसे ज्यादा ध्यान अपनी ओर खींचता है। लेकिन, दुनिया में कई लोगों को बालों से जुड़ी समस्याएं होती हैं। बालों को बचाने और बढ़ाने के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खे भी अपनाते हैं। बालों से जुड़ी समस्याएं कोई नई बात नहीं है, पुराने समय से ही लोग अपने बालों को बचाने के लिए तरह-तरह के नुस्खे आजमाते आ रहे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि रोम के राजा जूलियस सीजर ने भी अपने गंजेपन से छुटकारा पाने के लिए तरह-तरह के उपाय किए थे। ऐसा कहा जाता है कि जब जूलियस सीजर मिस्र की राजकुमारी क्लियोपेट्रा से मिला तो वह पूरी तरह से गंजा था। फिर क्लियोपेट्रा ने भी उन्हें गंजापन दूर करने के कुछ नुस्खे बताए।

कई साल बीत चुके हैं लेकिन आज भी गंजेपन की समस्या कई लोगों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। फर्क सिर्फ इतना है कि अब लोग घरेलू नुस्खों से आगे बढ़कर महंगे शैंपू, क्रीम, टॉनिक, दवाएं और सर्जरी आजमा रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक दुनिया भर में हर साल लोग गंजेपन के इलाज पर साढ़े तीन अरब डॉलर खर्च करते हैं. यह राशि मैसेडोनिया जैसे देश के वार्षिक बजट के बराबर है । हालांकि जिन लोगों के बाल झड़ना शुरू हो गए हैं उनके लिए एक अच्छी खबर है। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि गंजे लोग अधिक बुद्धिमान, प्रभावी और लंबी आयु वाले होते हैं। शोध में यह भी कहा गया है कि गंजे लोगों में महिलाओं को आकर्षित करने की क्षमता अधिक होती है।

गंजापन क्यों होता है?

गंजापन क्यों होता है, इस बारे में सभी के अलग-अलग मत हैं। प्राचीन रोम में, अधिकांश सैनिकों के बालों के झड़ने के लिए भारी धातु के हेलमेट को जिम्मेदार माना जाता था। बाद में, एक सिद्धांत ने गंजापन को अनुचित बाल कटाने या सूखापन के लिए जिम्मेदार ठहराया। 1897 में, एक फ्रांसीसी त्वचा विशेषज्ञ ने कहा कि उपयोग से पहले कंघी को पानी में उबाल कर साफ किया जाना चाहिए और गंजेपन वाले व्यक्ति को कंघी साझा नहीं करनी चाहिए।

महिलाएं आकर्षित होती हैं!

बैरी यूनिवर्सिटी, फ्लोरिडा, यूएसए के एक मनोवैज्ञानिक फ्रैंक मस्करेला के अनुसार, कई अध्ययनों में पाया गया है कि महिलाएं उन पुरुषों की ओर कम आकर्षित होती हैं जिनके बाल नहीं होते हैं। क्योंकि महिलाएं ऐसे पुरुषों को बूढ़ा मानती हैं। वहीं जो पुरुष गंजे होते हैं लेकिन हाई प्रोफाइल होते हैं, महिलाएं उनकी तरफ ज्यादा आकर्षित होती हैं।

गंजे लोगों को बुद्धिमान माना जाता है

2004 में मस्करेला ने एक प्रयोग किया। उन्होंने न्यूनतम गंजापन, पूर्ण गंजापन और बालों वाले पुरुषों की तस्वीरें खींचीं। इसके बाद मनोविज्ञान पढ़ने वाले 101 लड़कों और 101 लड़कियों को ये तस्वीरें दिखाई गईं। आपको जानकर हैरानी होगी कि लोगों ने गंजे लोगों की फोटो देखकर उन्हें ज्यादा समझदार, उच्च वर्गीय, मददगार, ईमानदार और ज्यादा पढ़ा-लिखा समझा।

गंजेपन के भी हैं फायदे !

गंजेपन के अगर कुछ नुकसान हैं तो यह फायदेमंद भी हो सकता है। गंजे लोगों को अधिक विटामिन डी मिलता है, क्योंकि गंजे लोग धूप के संपर्क में ज्यादा आते हैं। हंगरी के इस्तवान विश्वविद्यालय के पीटर काबाई बताते हैं कि हजारों साल पहले यूरोपीय लोगों में गंजापन ज्यादा था, इसलिए उन्हें ज्यादा धूप मिली।

कैंसर की रोकथाम में सहायक

कई अध्ययनों से पता चला है कि गंजापन आपको कैंसर से बचने में मदद कर सकता है। एक अध्ययन से पता चला है कि गंजापन प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को 29% तक कम कर देता है। इसके अलावा यह कई अन्य कैंसर के खतरे को कम करने में भी आपकी मदद कर सकता है।

तनाव कम होता है

बालों का झड़ना और गंजापन आपके लिए मानसिक तनाव का एक बड़ा कारण हो सकता है। लेकिन, अगर आप पहले से ही गंजे हैं तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। इस तरह आप तनाव से मुक्ति पा सकते हैं। गंजा जीवन जीने वाले लोग तनाव मुक्त रहते हैं।

कुल मिलाकर यह कहना गलत नहीं होगा कि गंजा होना आदमी को विकास के पथ पर तेजी से आगे बढ़ाता है। गंजापन उन्हें एक अच्छी गर्लफ्रेंड पाने में मदद कर सकता है। तो अब आप भी गंजेपन की चिंता करना छोड़ दें, क्योंकि गंजे लोग भी समझदार होते हैं।

No comments