Breaking News

ऐसी संतान करती है कुल का नाम रोशन, पढ़ें आज की चाणक्य नीति

चाणक्य की नीति हर किसी के जीवन में अहम भूमिका अदा करती है इनकी नीतियां मानव जीवन को सरल और सफल बनाने का काम करती है जो भी मनुष्य चाणक्य नीतियों को अपने जीवन में उतार लेता है वह अपने जीवन में हर मुश्किल को पार कर लेता है चाणक्य की नीति कहती हैं कि संतान को योग्य बनाने के लिए माता पिता को फसल की तरह उनकी परवरिश करनी चाहिए।

जिस तरह से एक किसान अपनी सफल की अच्छी पैदावार के लिए  उसका ध्यान रखता है ठीक उसी तरह से संतान को योग्य बनाने के लिए उसकी प्रतिभा को पहचानकर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करना चाहिए संतान को सही और गलत में र्फक बताना चाहिए तभी वह सफल और सुखद जीवन जी सकता है वही चाणक्य ने अपनी नीतियों द्वारा बताया है कि कैसी संतान कुल का नाम रोशन कर सकती है और जिस पर माता पिता के साथ साथ पूरे परिवार को भी गर्व होता है, तो आज हम आपके लिए लेकर आए है चाणक्य नीति।

चाणक्य की नीति—
चाणक्य नीति के अनुसार संतान के अच्छे व्यवहार और उसकी आदतों से उसके संस्कार का पता चलता है जो अपने से बड़ो का आदर करें महिलाओं का सम्मान करें जो अच्छे और बुरे कर्म का फर्क समझता हो ऐसी संतान हमेशा ही अपने कुशल का नाम रोशन करती है और समाज में माता पिता व परिवार वालों को सम्मान दिलाती है ज्ञान, कुशलता और योग्यता के साथ साथ संस्कार का होना भी संतान में जरूरी माना जाता है ऐसे ही लोग बुलंदियों को छूते है और हर स्थान पर सम्मान भी पाते हैं।

वही जो लोग अपनी संतान को बचपन से ही नेकी और अच्छाई का मार्ग दिखाते हैं उनकी संतान हमेशा ही उनका कहना मानती है जिनके बच्चे आज्ञाकारी होते हैं वे सौभाग्यशाली होते हैं लेकिन इसके लिए पहले उन्हें खुद भी आदर्श माता पिता बनना होगा। तभी उनकी संतान भी अच्छी संतान कहलाएगी। संतान की परवरिश में शिक्षा अहम मानी जाती है शिक्षा मनुष्य के अच्छे व्यक्तिव का निर्माण करने में सहायक होती है ऐसे में अपनी संतान को अधिक से अधिक ज्ञान प्रदान करें। तभी आपके कुल और परिवार का नाम रौशन हो सकता है। 

No comments