Breaking News

गर्भ ठहरने की दवा Patanjali – प्रेग्नेंट होने के लिए पतंजलि की आयुर्वेदिक दवा

garbh-thaharne-ki-dawa-patanjali

गर्भ ठहरने की दवा Patanjali – हर महिला के लिए प्रेग्नेंट होना एक सुखद एहसास होता है. जब एक महिला गर्भवती होती है तो इससे महिला ही नहीं बल्कि उनके परिवार के सभी सदस्य खुश होते हैं. लेकिन कुछ पति-पत्नी ऐसे हैं लाख कोशिशों के बावजूद गर्भ धारण नही कर पाती है. इसका कारण पति और पत्नी दोनों में से हो सकती है.

महिलाओं और स्त्रियों में प्रजनन क्षमता के प्रभावित होने के कारण कई स्वास्थय संबंधी समस्याएं हो सकती है. इन समस्याओं में पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओ), ऐंडोमेटरिओसिज़, श्रोणि सूजन की बीमारी, गर्भाशय फाइब्रॉएड, एनीमिया, थायराइड की समस्याएं, अवरुद्ध फैलोपियन ट्यूबज़, कैंडिडा और यौन संचारित रोग (एसटीडी) इत्यादि शामिल हैं. इसके साथ ही स्त्रियों के प्रजनन क्षमता में कमी का कारण शराब, सिगरेट, मोटापा, तनाव, अनियमित एवं दर्दपूर्ण माहवारी की समस्या, पोषण-रहित भोजन या फिर अत्यधिक शारीरिक-प्रशिक्षण भी है.

मां बनना हर औरत की ख्वाहिश होती है. लेकिन उपर्युक्त कारणों की वजह से एक स्त्री को माँ बनने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में कई बार गर्भ ठहरने की जड़ी बूटियां, पतंजलि दवा और आयुर्वेदिक उपचार आपकी मदद कर सकती है.

आज के समय बहुत से ऐसे लोग मिल जायेंगे जिन्हें संतान नहीं होती. कहने का मतलब लाख संभोग करने बावजूद एक महिला गर्भधारण नहीं कर पाती है, क्योंकि महिलाओं की प्रजनन क्षमता कमजोर हो चुकी होती है. कई स्थितियों में मर्दों के शुक्राणुओं में कमी भी संतान पैदा न करने के लिए जिम्मेदार कारण होते हैं. ऐसी स्थिति में वे डॉक्टर के पास चेक अप करवाती है और दवाएं खाती है.

आज के इस पोस्ट में हम आप लोगों को गर्भ ठहरने की दवा पतंजलि के बारे में बताने वाले हैं. पतंजलि में कई ऐसी आयुर्वेदिक दवाएं हैं जिसका इस्तेमाल करके फर्टिलिटी को बढ़ा सकते हैं. इससे गर्भधारण करने के चांसेस बढ़ जाते हैं. तो चलिए जानते हैं…
ये है गर्भ ठहरने की 3 पतंजलि दवाअश्वगंधा

अश्वगंधा महिलाओं के लिए एक फायदेमंद आयुर्वेदिक औषधि है जो संतान प्राप्ति के सुख दे सकती है. अश्वगंधा हार्मोनल-संतुलन बनाए रखती है और प्रजनन क्षमता को बढ़ाती है. यह गर्भाश्य को समुचित आकार में लाकर उसे स्वस्थ बनाने में मदद करती है जिससे गर्भधारण करने में आसानी होती है. इसके लिए गर्म पानी के एक गिलास में अश्वगंधा चूर्ण का 1 चम्मच मिश्रण बनाकर, दिन में 2 बार लें. ऐसा करने से संभोग के बाद गर्भ ठहरने के चांसेस बढ़ जायेंगे.दालचीनी

दालचीनी भी संतान पैदा न करने वाली महिलाओं और स्त्रियों के लिए एक वरदान औषधि है. दालचीनी डिम्ब-ग्रंथि के सही रूप से कार्य करने में मदद कर सकती है. गर्म पानी के एक कप में, दालचीनी पाउडर का 1 चम्मच मिलाएं. कुछ महीनों के लिए दिन में एक बार इसे पीते रहें. इसके अलावा, अपने अनाज, दलिया, और दही पर भी दालचीनी पाउडर का छिड़काव करके इसे अपने आहार में शामिल करें.शतावरी

जिन महिलाओं को गर्भधारण नहीं हो रहा है वे शतावरी का सेवन कर सकती है. शतावारी एक ऐसी ही जड़ी बूटी और पतंजलि दवा है, जो कि गर्भधारण करने में आपकी मदद कर सकती है. शतावारी महिलाओं में फर्टिलिटी की क्षमता बढ़ाती है और गर्भ ठहरने के लिए एक आयुर्वेदिक दवा के रूप में काम करती है. इतना ही नहीं ये महिलाओं में हार्मोनल बैलेंस को बेहतर बनाने में मदद करती है, जिससे गर्भधारण करना आसान हो जाता है.

No comments