Breaking News

क्या अश्विन को बनाना चाहिए भारत का टेस्ट कप्तान? पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज ने कही बड़ी बात

india-test-captain-should-ashwin-be-made-india-test-captain

विराट कोहली के बाद ओपनर रोहित शर्मा को तीनों प्रारूपों में टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया। कप्तान बनने के बाद रोहित लगातार टीम इंडिया के साथ नहीं रहे हैं। कई सीरीज में उन्हें आराम दिया गया है। वहीं, कुछ सीरीज में वह चोट के कारण नहीं खेले। ऐसे में कई खिलाड़ियों को टीम इंडिया की कप्तानी करने का मौका मिला। शिखर धवन, केएल राहुल, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या और यहां तक कि जसप्रीत बुमराह ने भी कप्तानी की। एक अनुभवी रविचंद्रन अश्विन को यह अवसर नहीं मिला है। अब पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया का मानना है कि अश्विन को टेस्ट में कप्तान बनाया जा सकता है।

खेल के सबसे लंबे प्रारूप में भारत के बेहतरीन क्रिकेटरों में से एक अश्विन टीम इंडिया की मजबूत कड़ी हैं। सिर्फ गेंद से ही नहीं बल्कि बल्ले से भी अश्विन ने भारतीय टीम को कठिन परिस्थितियों से निकाला है। ऐसे में कनेरिया को लगता है कि अश्विन टेस्ट में कप्तानी के सही दावेदार होंगे।

अश्विन स्मार्ट क्रिकेटर हैं: कनेरिया: 
कनेरिया ने अपने यूट्यूब चैनल पर लिखा, ''रविचंद्रन अश्विन को भारत की टेस्ट कप्तानी के लिए उम्मीदवारों में से एक होना चाहिए। उनके पास अभी भी बहुत क्रिकेट बाकी है। वह अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी के साथ बहुत स्मार्ट हैं। ऐसा लगता है कि वह मैदान पर हमेशा सोचते रहते हैं।'' अश्विन ने बांग्लादेश के खिलाफ टीम इंडिया को हार से बचाया था। उन्होंने दूसरी पारी में नाबाद 42 रन की पारी खेलकर टीम इंडिया को तीन विकेट से जीत दिलाई थी।

'अश्विन के 42 रन शतक के बराबर'

कनेरिया ने कहा, ''बांग्लादेश के खिलाफ भारतीय टीम काफी दबाव में थी। अश्विन ने शांत रहकर परिस्थितियों को संभाला। उन्होंने टीम के लिए एक यादगार पारी खेली। उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से टीम इंडिया को कई मौकों पर बचाया है। भारतीय टीम जब अनिल कुंबले के बगैर खेलती थी तो कमजोर दिखती थी। ठीक वैसा ही अश्विन के साथ हो रहा है। उनके 42 रन एक शतक के बराबर हैं।'' अश्विन को बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट में प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया था।

No comments