Breaking News

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण

sar-dard-aur-aankho-me-dard-ke-karan

सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण – आज के समय में दिनभर काम का बोझ और तनाव की वजह से सिर दर्द होना काफी आम समस्या हो गयी है. इसके साथ ही घंटों भर कंप्यूटर और मोबाइल के पास बैठने से सिर और आँख दोनों में दर्द शुरू हो जाता है. सिर में दर्द होना तक तो ठीक है, लेकिन जब सिर में दर्द के साथ-साथ आंखों में दर्द होने लगे, तो यह हमारे कार्यों पर बुरा असर डालने लगती है.

जब सिर और आँख दोनों में दर्द होने लगे तो किसी भी को करने में मन नहीं लगता और काम पूर्ण नहीं हो पाता है. सिर और आंखों में दर्द होना बहुत ही असहनीय होता है. ऐसे दर्द में सिर और आँख में काफी ज्यादा टीस मारने लगता है, जिसकी वजह से कामकाज प्रभावित होता है. इस असहनीय दर्द से छुटकारा पाने के लिए हम कई तरह के उपायों का सहारा लेने लगते हैं. लेकिन क्या आप सिर और आंखों में दर्द से छुटकारा पाने के उपाय से पहले इसके कारणों के बारे में जानते हैं? आज के इस पोस्ट में हम आप लोगों को सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण के बारे में बताने वाले हैं. तो चलिए जानते हैं…

सिर दर्द और आँखों में दर्द के 7 कारणक्लस्टर सिरदर्द

क्लस्टर सिरदर्द आंख और सिर में एक साथ दर्द होने का प्रमुख कारण हो सकता है. आपको बता दें कि क्लस्टर सिरदर्द काफी पीड़ायादी दर्द है. जब किसी व्यक्ति को यह दर्द होता है तो व्यक्ति को बार-बार दौरे पड़ सकते हैं.ऑप्टिक न्यूराइटिस

जो व्यक्ति ऑप्टिक न्यूराइटिस से ग्रसित है उस के सिर और आंखों के पीछे बहुत ही तेज दर्द हो सकता है. जब कोई व्यक्ति इस समस्या से ग्रसित हो जाता है तो दृष्टि तंत्रिका में सूजन होने लहती है. इसमें सिर और आंखों के पीछे दर्द होने के साथ-साथ धुंधली दृष्टि, रंग पहचानने में परेशानी, फ़्लोटर, उबकाई और देखने में परेशानी हो सकती है. इसलिए अगर आपको सिरदर्द के साथ-साथ आंखों में दर्द का अनुभव हो, तो अपना तुरंत इलाज कारए. इससे आप आंखों की गंभीर परेशानी से बच सकते हैं.ग्रेव्स रोग

ग्रेव्स रोग के बारे में शायद आप लोगों को कम ही पता होगा. आपको बता दें कि ग्रेव्स डिजीज एक ऑटोइम्यून समस्या है. इसका संबंध थायरॉइड ग्रंथियों की असामान्यताओं से होता है. जिस व्यक्ति को यह रोग होता है उन्हें आंखों और सिर में दर्द के साथ-साथ आंखों का बाहर आना, पलकों का पीछे हट जाना, आंखों को घुमाने में परेशानी उत्पन्न हो सकती है.साइनस

आंखों और सिर में एक साथ दर्द शुरू होने के कारणों में साइनस की परेशानी बढना भी है. इसके अलावा साइनस की वजह से नाक, गाल और आंखों के पीछे तीव्र दर्द होने लगता है. साइनस का संक्रमण इस दर्द का बहुत ही आम जिसमें आंखों के पीछे सिर में होने वाला दर्द शामिल हैमाइग्रेन

आज के समय में माइग्रेन की समस्या बहुत से लोगों को होती है. माइग्रेन इन दिनों होने वाली सबसे आम समस्या है. इसके कारण हमें कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं. आपको बता दें कि माइग्रेन से प्रभावित होने पर आपका आधा सिर और आंखों के पीछे तेज दर्द और टिस मारता रहता है. धीरे-धीरे यह दर्द सिर के पिछले हिस्से को भी प्रभावित करने लग जाता है. माइग्रेन में सिर और आंखों में दर्द के साथ-साथ उल्टियां, प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता, गंध, आवाज से परेशानी और उबकाई होने लगता है.ग्लूकोमा

ग्लूकोमा आँखों से जुडी एक ऐसी परेशानी है, जिससे आपकी दृष्टि तंत्रिका प्रभावित हो सकती है. यह आपके परिधीय दृष्टि को नुकसान पहुंचा सकती है. धुंधली दृष्टि के काण अंधेरे के प्रति संवेदनशीलता और प्रकाश स्रोतों के चारों ओर चमकदार गोले दिखते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ग्लूकोमा को साधारण भाषआ में काला मोतिया भी कहते हैं. इसकी वजह से उबकाई और आंखों के पीछे काफी तेज दर्द होने लगता है. अगर आपको इस तरह के लक्षण दिखे, तो तुरंत अपना इलाज कराएं.स्क्लेराइटिस

सिर और आंखों के पीछे तीव्र दर्द होने का कारण स्क्लेराइटिस की समस्या भी है. यह बीमारी नेत्रगोलक की बाहरी परत को प्रभावित करता है. इसकी वजह से आँखों के पीछे गंभीर सूजन और तेज दर्द होता है. यह एक ऑटो इम्यून बीमारी है, जिसमें सिर में दर्द के साथ-साथ आंखें लाल या गुलाबी आंख हो जाता है. इसके अलावा आंखों से आंसू आना, दृष्टि धुंधली होना और प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता महसूस होती है.

No comments