Breaking News

Shaniwar Mantra 2022 : शनिदेव के इन मंत्रों का करें जाप, सारे दुख होंगे दूर

Shaniwar Mantra 2022 : शनिदेव जिन्हे न्याय का देवता कहा जाता है, ये सबको उनके कर्मों के हिसाब से उनका फल देते हैं, इसलिए इन्हें कर्मफल दाता शनि कहा जाता है. कहा जाता है कि जो व्यक्ति इनकी पूजा करता है, उनसे शनिदेव बेहद प्रसन्न होते हैं, और उनके सारे काम बिना किसी बाधा के पूरे होते हैं. वहीं जिनकी  कुंडली में शनि की स्थिति होती है, उनका कोई भी काम कभी आसानी से नहीं हो पाता है, उनके सभी काम में अड़चनों का सामना करना पड़ता है. तो ऐसे में आज हम आपको शनिदेव के मंत्रों के बारे में बाएंगे. जिन मंत्रों को करने से जीवन के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं.

शनिदेव के इन मंत्रों का करें जाप, सारी बाधाएं होंगी दूर

1.ॐ शं शनिश्चराय नम:
शनिवार के दिन शनिदेव की पूजा करने के दौरान सरसों के तेल का दीपक जलाएं और इस मंत्र का 11 बार जाप करें, इससे शनिदेव की कृपा हमेशा बनीं रहती है और शनिदेव की पूजा में काले वस्त्र जरूर पहनें.

2.जीवन में सुख और सफलता पाने के लिए 

अपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेऽहर्निशं मया।
दासोऽयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वर।।
गतं पापं गतं दु:खं गतं दारिद्रय मेव च।
आगता: सुख-संपत्ति पुण्योऽहं तव दर्शनात्।।

इस मंत्र को रोजाना शनिवार के दिन सुबह और शाम के समय पढ़ें, इससे आपके जीवन में हमेशा आपको सुख-शांति मिलेगी.

3.शनिदेव के वैदिक मंत्रों का करें जाप

ऊँ शन्नो देवीरभिष्टडआपो भवन्तुपीतये।
शनि देव का एकाक्षरी मंत्र
ऊँ शं शनैश्चाराय नमः।

इस मंत्र का 51 बार सरसों के तेल में दो लौंग डालकर पढ़ें, इससे आपको कभी किसी भी परिस्थिति में विचलित नहीं होंगे और आपके सारे काम बिना किसी बाधा के पूरे होंगे.

4.अगर आपकी कुंडली में साढ़ेसाती का प्रभाव है, उससे बचने के लिए करें इस मंत्र का जाप

ऊँ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम ।
उर्वारुक मिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षीय मा मृतात ।
ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये।शंयोरभिश्रवन्तु नः। ऊँ शं शनैश्चराय नमः।
ऊँ नीलांजनसमाभासं रविपुत्रं यमाग्रजम्‌।छायामार्तण्डसम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्‌।

No comments