Breaking News

शिव जी को ऐसे करें प्रसन्न, राशि अनुसार करें महादेव पूजा

शिव जी को ऐसे करें प्रसन्न, राशि अनुसार करें महादेव पूजा

देवों के देव महादेव अपने हर भक्त की मनोकामना पूरी करते हैं। सच्चे मन से की गई पूजा का फल भगवान शिव जरुर देते हैं। मान्यताओं के अनुसार महाशिवरात्रि बहुत ही विशेष और खास मानी जाती है।

इस दिन पूजा-पाठ करने से व्यक्ति की मनोकामनाएं पूरी होती है और व्यक्ति के कार्यों में आ रही सभी परेशानियां भी दूर होती है। लेकिन किसी भी पूजा का विशेष फल पाने के लिये अगर राशि अनुसार पूजा की जाए तो व्यक्ति को कष्टों से मुक्ति जरुर मिलेगी। आइए जानते हैं राशि अनुसार कैसे करें भगवान शिव की पूजा…

मेष राशि: इस राशि वाले जातक शिव जी की गुलाल से पूजा करायें और ॐ ममलेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें, आपको बहुत अधिक लाभ मिलेगा।

वृषभ राशि: इस राशि के लोग शिव जी का दूध से अभिषेक करें और ॐ नागेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें, सभी कष्टों से मुक्ति मिलेगी।

मिथुन राशि: मिथुन राशि के जातक शिव जी का अभिषेक करें और इसके साथ ही ॐ भुतेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें।

कर्क राशि: इस राशि के जातकों को भगवान शिव का पंचामृत से अभिषेक करना चाहिये और महादेव के द्वादश नाम का स्मरण करना चाहिये।

सिंह राशि: इस राशि के जातक भगवान शिव का शहद से अभिषेक करें और ॐ नम: शिवाय” मंत्र का जाप करें।

कन्या राशि: कन्या राशि के जातक महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का जल में दूध मिलाकर अभिषेक करें और शिव चालीसा का पाठ करें।

तुला राशि: भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिये महादेव का दही से अभिषेक करें और इस दिन शिवाष्टक का पाठ करें।

वृशिचक राशि: इस राशि के लोग दूध और घी से शिवजी का अभिषेक करें और ॐ अन्गारेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें।

धनु राशि: महाशिवरात्रि के दिन शिव जी का दूध से अभिषेक करें और ॐ समेश्वरायनम: मंत्र का जाप करें, सभी इच्छाएं जल्द पूरी होंगी।

मकर राशि: महाशिवरात्रि के दिन मकर राशि वाले जातक भगवान शिव का गन्ने के रस से अभिषेक करें और साथ ही शिव सहस्त्रनाम का पाठ करें।

कुंभ राशि: इस राशि वाले जातक महाशिवरात्रि के दिन शिव जी का दूध, दही, शक्कर, घी, शहद इन सभी चीजों से अभिषेक करें इसके साथ ही ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप करें।

मीन राशि: 
भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिये महाशिवरात्रि के दिन मौसमी फल से शिव जी का अभिषेक करें, इसके साथ ही ॐ भामेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें।

No comments