Breaking News

शुक्रवार को करें ये उपाय, पति-पत्नी में कड़वाहट और धन की है किल्लत से मिलेगी मुक्ति

शुक्रवार को करें ये उपाय, पति-पत्नी में कड़वाहट और धन की है किल्लत से मिलेगी मुक्ति

शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की आराधना की जाती है। इस दिन कुछ विशेष ज्योतिषीय उपाय किए जाए तो व्यक्ति की धन संबंधित दिक्कतें दूर हो सकती हैं। इससे पारिवारिक जीवन भी बेहतर बन सकता है। ऐसे में जानना बेहद ही जरूरी है कि इस दिन देवी लक्ष्मी को खुश करने के कौन सा उपाय करनी चाहिए।

आइये जानते हैं कौन-से हैं वो उपाय, जिसे शुक्रवार के दिन करना चाहिए…

अगर पति-पत्नी में बनती नहीं है तो शुक्रवार के दिन भगवान श्रीकृष्ण का स्मरण कर तीन इलायची अपने शरीर से छुआकर किसी साफ जगह छुपाकर रख दें। ये काम तीन शुक्रवार लगातार करें। ऐसा करने से रिश्तों में मिठास आने लगेगी।

अगर पति से आपके संबंध बेहतर नहीं है तो शुक्रवार को देवी मां को पांच इलायची चढ़ाएं। फिर उसे अपने माथे से लगाकर अपनी साड़ी के आंचल में बांधकर रख लें। ऐसा करने से रिश्तों में धीरे-धीरे सुधार होने लगेगा।

अगर आप धन प्राप्त करना चाहते हैं तो शुक्रवार के दिन देवी मां को पांच तुलसी के पत्ते चढ़ाएं और पूजन के बाद उन्हें एक लाल रुमाल में बांधकर अपने पास रख लें। माना जाता है कि ऐसा करने से धन में वृद्धि होने लगेगी।

अगर आप तरक्की करना चाहते हैं तो शुक्रवार के दिन देवी दुर्गा को पांच लौंग और पांच इलायची चढ़ाएं। इसके बाद कोई भी सिद्ध मंत्र 108 बार पढ़ें। जब ये दोनों चढ़ाई गई चीजें अभिमंत्रित हो जाएं, तब इसे अपने पास रख लें। ऐसा करने से आपका काम बनने लगेगा।

अगर परिवार में हमेशा लड़ाई-झगड़े का महौल रहता है तो शुक्रवार के दिन घर में पांच कन्याओं को खीर खिलाएं। ऐसा करने से घर में खुशहाली आएगी।

अगर आप धन की इच्छा रखते हैं तो हकीक पत्थर के ऊपर मां लक्ष्मी की मूर्ति या तस्वीर रखें। इससे घर में आर्थिक उन्नति होने लगेगी।

अगर आपके पास धन नहीं टिकता है तो शुक्रवार के दिन ‘ऊँ हीं हीं श्रीं श्रीं लक्ष्मी वासुदेवाय नमः’ मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से पैसों की बचत होने लगेगी।

अगर आप कर्ज से परेशान हैं तो शुक्रवार के दिन श्रीकृष्ण की मूर्ति के सामने तीन मुट्ठी चावल एक पीले कपड़े में बांधकर रख दें और दूसरे दिन उस चावल की खीर बनाकर पूरे परिवार को खिला दें, ऐसा करने से आपकी सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी।

No comments