Breaking News

Milk tea and Cancer: सावधान! दूध वाली चाय का से कैंसर, जानिये कैसे बचे

Milk Tea: खराब मूड से लेकर बैड डे तक, एक कप चाय सब कुछ ठीक कर सकती है. ये बात शायद आपने कई बार सुनी होगी. लेकिन ज्यादा चाय पीना हमारी हेल्थ के लिए भी खतरनाक हो सकता है. चौंकाने वाली बात ये है कि ज्यादा चाय पीने से कुछ तरह कैंसर भी हो सकते हैं.

आमतौर पर चाय स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं होती है. लेकिन इसे बनाने से लेकर, इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री, किस्म और पीने पर के पैटर्न पर काफी कुछ निर्भर करता है. इसके चलते पाचन संबंधी बीमारियों के अलावा कई दूसरी स्वास्थ्य समस्याओं भी हो सकती हैं.

क्या दूध वाली चाय खतरनाक?

चाय में कैफीन होता है, जिससे एनर्जी स्टिमुलेट होती है. हालांकि, ज्यादा चाय पीने से ब्लोटिंग और पाचन संबंधी दूसरी समस्याएं हो सकती हैं. इसके अलावा, दोपहर के बाद चाय को ज्यादा पीने के चलते नींद नहीं आने जैसी समस्याएं भी खड़ी कर सकती है. हालांकि, कैफीन न केवल दूसरी बीमारियों के रिस्क को बढ़ा सकता है बल्कि कैंसर की समस्या भी हो सकती है. इसके अलावा, चाय में इस्तेमाल होने वाली रिफांइड शुगर भी काफी खतरनाक है.

दूध की चाय कैसे खतरनाक

चाय की पत्तियों में पॉलीफेनोल्स और एंटीऑक्सिडेंट जैसे कई हेल्दी कंपाउंड्स पाए जाते हैं. ये कंपाउंड्स फ्री रेडिकल्स में लड़ने के अलावा ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करते हैं. लेकिन आपको बता दें कि दूध और चीनी से बनीं चाय को ज्यादा पीने सेट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ा सकता है. इसके कारण उच्च कोलेस्ट्रॉल, मधुमेह, लिवर, पेट के रोग होने के साथ-साथ कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा बढ़ सकता है.

हालांकि, दूध से बनने वाली चाय को ज्यादा पीने और बिना दूध की चाय को लेकर फिलहाल कई सारे शोध की जरूरत है. इसलिए दूध वाली चाय को ज्यादा पीने की बजाय हर्बल टी पीना ज्यादा बेहतर विकल्प है, जिसमें एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा ज्यादा होने के कारण बीमारियों में भी फायदेमंद हो सकती है.

No comments